Chapter 15 – संचार व्यवस्था

(1) किसी माध्यम में संचरण के समय सिग्नल की सामर्थ्य की हानि है –

अभिग्रहण (Reception)
अवशोषण
प्रेषण
क्षीणन

उत्तर देखे
अवशोषण

(2) संचार व्यवस्था के आवश्यक तत्व हैं ?

प्रेपित्र एवं अभिग्राही
अभिग्राही एवं संचार चैनल
प्रेषित्र एवं संचार चैनल
प्रेषित्र, संचार चैनल एवं अभिग्राही

उत्तर देखे
प्रेषित्र, संचार चैनल एवं अभिग्राही

(3) वर्ल्ड वाइड वेब (www) का आविष्कारक कौन था ?

जे.सी.आर. लिकलाइडर
टिम-वर्नर्स-ली
अलेक्जेन्डर ग्राहम बेल
सेमुअल एफ. बी. मोर्स

उत्तर देखे
टिम-वर्नर्स-ली

(4) ट्रांजिस्टर में विद्युत चालन का कारण –

होल
इलेक्ट्रॉन
होल एवं इलेक्ट्रॉन
इनमें से कोई नहीं

उत्तर देखे
होल एवं इलेक्ट्रॉन

(5) विद्युत परिपथ का प्रयोग करके किसी सिग्नल की बढ़ती हुई सामर्थ्य की विधि को कहते हैं?

प्रवर्धन
मॉडुलन
डिमॉडुलन
प्रेषण

उत्तर देखे
प्रवर्धन

(6) ताप बढ़ने के साथ अर्थचालक का प्रतिरोध –

बढ़ता है
घटता है
कभी बढ़ता है और कभी घटता है
अपरिवर्तित होता है

उत्तर देखे
घटता है

(7) निम्न में से कौन-सा संचार के प्रसारण विधा का उदाहरण है ?

रेडियो
टेलीविजन
मोबाइल
(a) एवं (b) दोनों

उत्तर देखे
रेडियो आवृत्ति से अधिक

(8) वैसी युक्ति जो सौर ऊर्जा को विद्युत् ऊर्जा में परिवर्तित करता है, उसे कहते हैं?

सौर सेल
शुष्क सेल
संचायक सेल
बटन सेल

उत्तर देखे
सौर सेल

(9) मॉडेम ऐक ऐसी युक्ति है जो सम्पन्न करती है –

मॉडुलन
डिमॉडुलन
दिष्टीकरण
मॉडुलन एवं डिमॉडुलन

उत्तर देखे
मॉडुलन एवं डिमॉडुलन

(10) P-प्रकार एवं N-प्रकार का अर्द्धचालक –

विद्युतीय उदासीन
विद्युतीय धनात्मक
विद्युतीय ऋणात्मक
इनमें से कोई नहीं

उत्तर देखे
विद्युतीय उदासीन