Class 12 Political Science Notes Chapter 3

स्मरणीय बिन्दु :-

* 1991 में सोवियत संघ के विघटन के साथ ही शीत-युद्ध का अंत हो गया तथा अमेरिकी वर्चस्व की स्थापना के साथ विश्व राजनीति का स्वरूप एक-ध्रुवीय हो गया।

* अगस्त 1990 में इराक ने अपने पड़ोसी देश कुवैत पर कब्जा कर लिया। संयुक्त राष्ट्र संघ ने इस विवाद के समाधान के लिए अमरीका को इराक के विरूद्ध सैन्य बल प्रयोग की अनुमति दे दी। संयुक्त राष्ट्र संघ का यह नाटकीय फैसला था। अमेरिका राष्ट्रपति जार्ज बुश ने इसे नई विश्व व्यवस्था की संज्ञा दी।

* वर्चस्व (हेजेमनी) शब्द का अर्थ है सभी क्षेत्रों जैसे सैन्य, आर्थिक, राजनैतिक एवं सांस्कृतिक क्षेत्रों में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक मात्र शक्ति केन्द्र होना।

* अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन लगातार दो कार्यकालों (जनवरी 1993 से जनवरी 2001) तक राष्ट्रपति पद पर रहे इन्होंने अमेरिका को घरेलू रूप से अधिक मजबूत किया और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर लोकतंत्र को बढ़ावा जलवायु परिवर्तन तथा विश्व व्यापार जैसे नरम मुद्दों पर ही ध्यान केंद्रित किया।

* 11 सितम्बर 2001 के दिन 19 अपहरणकर्ताओं द्वारा जिनका संबंध आतंकवादी गुट अलकायदा से माना गया, चार अमेरिकी व्यावसायिक विमानों पर कब्जा कर लिया। इनमें से दो विमानों को न्यूयार्क स्थित वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से टकराया गया। इसे 9/11 की घटना कहा गया। इस हमले में लगभग तीन हजार लोग मारे गए। इसके विरोध में अमेरिका ने आतंकवाद के खिलाफ विश्व व्यापी युद्ध छेड़ दिया।

* ऑपरेशन इराकी फ्रीडम को सैन्य और राजनीतिक धरातल पर असफल माना गया क्योंकि इसमें 3000 अमेरिकी सैनिक, बड़ी संख्या में इराकी सैनिक और लगभग 50000 निर्दोष नागरिक मारे गए।

* अमेरिकी सैन्य खर्च व सैन्य प्रौद्योगिकी की गुणवत्ता इतनी अधिक है कि किसी देश के लिए इस मामले में उसकी बराबरी कर पाना फिलहाल संभव नहीं है।

* अमेरिका की ढाँचागत ताकत जिसमें समुद्री व्यापार मार्ग (SLOC’s) इंटरनेट आदि शामिल है इसके अलावा MBA की डिग्री और अमेरिकी मुद्रा डॉलर का प्रभाव इसके आर्थिक वर्चस्व को बढ़ा देते है।

* ब्रेटन वुड प्रणाली की संस्थाएँ अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) और विश्व बैंक पर भी अमेरिका का वर्चस्व है।

* नीली जींस, मैक्डोनाल्ड आदि अमेरिका के सांस्कृतिक वर्चस्व के उदाहरण है जिसमें विचारधारा, खानपान, रहन-सहन, रीतिरिवाज और भाषा के धरातल पर अमेरिका का वर्चस्व कायम हो रहा है। इसके अन्तर्गत जोर जबरदस्ती से नहीं बल्कि रजामंदी से बात मनवायी जाती है।

* अमरीकी शक्ति के रास्ते में तीन मुख्य अवरोध हैं

1) अमेरिका की संस्थागत बनावट, जिसमें सरकार के तीनों अंगों यथा व्यवस्थापिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका एक दूसरे के ऊपर नियंत्रण
रखते हुए स्वतंत्रता पूर्वक कार्य करते है
2)अमरीकी समाज की प्रकृति उन्मुक्त है। यह अमेरिका के विदेशी सैन्य अभियानों पर अंकुश रखने में बड़ी भूमिका निभाती है
3) नाटो, इन देशों में बाजारमूलक अर्थव्यवस्था चलती है। नाटो में शामिल देश अमेरिका के वर्चस्व पर अंकुश लगा सकते है।

* वर्चस्व से बचने के उपाय

1) बैंडवेगन नीति – इसका अर्थ है वर्चस्वजनित अवसरों का लाभ उठाते हुए विकास करना।
2) अपने को छिपा लेने की नीति ताकि वर्चस्व वाले देशों की नजर न पड़े।
3) राज्येत्तर संस्थाएं जैसे स्वयंसेवी संगठन, कलाकार और बुद्धिजीवी मिलकर अमेरिका वर्चस्व का प्रतिकार करें।

* भारत अमेरिकी संबंध :- शीतयुद्ध की समाप्ति के बाद भारत द्वारा उदारीकरण एवं वैश्वीकरण की नीति अपनाने के कारण महत्वपूर्ण हो गए है। भारत अब अमेरिका की विदेश नीति में महत्वपूर्ण स्थान रखता है इसके प्रमुख लक्षण परिलक्षित हो रहे है।

– अमेरिका आज भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार।
– अमेरिका के विभिन्न राष्ट्रध्यक्षों द्वारा का भारत से संबंध प्रगाढ़ करने हेतु भारत की यात्रा।
– अमेरिका में बसे अनिवासी भारतीयों खासकर सिलिकॉन वैली में प्रभाव।
– सामरिक महत्व के भारत अमेरिकी असैन्य परमाणु समझौते का सम्पन्न होना।
– बराक ओबामा की 2015 की भारत यात्रा के दौरान रक्षा सौदों से संबंधित समझौतों का नवीनीकरण किया गया तथा कई क्षेत्रों में भारत को ऋण प्रदान करने की घोषणा की गयी।
– वर्तमान अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की आउटसोंसिंग संबंधी नीति से भारत व्यापारिक हित प्रभावित होने की संभावना है।
– वर्तमान में विभिन्न वैश्विक मंचों पर अमेरिका राष्ट्रपति तथा भारतीय प्रधानमंत्री के बीच हुई मुलाकातों तथा वार्ताओं को दोनों देशों के मध्य अर्थिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक तथा सैन्य संबंधों के सुदृढ़ीकरण की दिशा में सकारात्मक संदर्भ के रूप में देखा जा सकता है।

प्रसन 1. क्या अमेरिका का वर्चस्व सोवियत संघ के विघटन के बाद प्रारंभ हुआ?

उत्तर :- नहीं अमेरिका का वर्चस्व 1945 में भी देखने को मिला था जब अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम गिराए तब से अमेरिकी का वर्चस्व रहा है।

प्रसन 2. प्रथम खाड़ी युद्ध क्या है?

उत्तर :- अगस्त 1990 में इराक ने कुवैत पर कब्जा कर लिया इराक को समझाने की कोशिश की गई यह गलत है लेकिन इराक नहीं माना तब संयुक्त राष्ट्र संघ (U.N) ने बल प्रयोग की अनुमति दी नाटकीय फैसला कहलाया क्योंकि (U.N) ने शीत युद्ध से अब तक इतना बड़ा फैसला नहीं लिया जॉर्ज बुश ने इस नई विश्व व्यवस्था की संज्ञा दी।
* प्रथम खाड़ी युद्ध में उपदेश (6,60,000) सैनिक थे इस में से 75% अमेरिका के सैनिक थे।
* प्रथम खाड़ी युद्ध को ऑपरेशन डेजर्ट स्ट्राम कहते हैं।
* सद्दाम हुसैन ने कहा यह 100 जंग की 1 जंग होगी तथा इस घटना को सारी दुनिया में लाइव दिखाया गया था कि अमेरिका की ताकत का सबको पता लगे।
* स्मार्ट बम का प्रयोग किया गया कंप्यूटर युद्ध।

प्रसन 3. जॉर्ज बुश के बाद कौन अमेरिकी राष्ट्रपति बने?

उत्तर :- प्रथम खाड़ी युद्ध के बाद 1992 में अमेरिका में राष्ट्रपति के लिए चुनाव हुआ बिल क्लिंटन नए राष्ट्रपति बने 1992 से 1996 में दोबारा चुनाव हुए और वह फिर से जीते इन्होंने घरेलू मामलों पर ज्यादा ध्यान दिया। जैसे (लोकतंत्र को बढ़ावा,जलवायु परिवर्तन व्यापार)

प्रसन 4. अमेरिकी दूतावास पर हमला

उत्तर :- * केन्या (नरोनी) में बने अमेरिकी दूतावास पर हमला हुआ।
* डरे सलाम (तंजानिया) में बने अमेरिकी दूतावास पर हमला हुआ।
* हमले की जिम्मेदारी “अल कायदा” को बताया गया आतंकवादी संगठन को इसका जिम्मेदार बताया गया।
* इसके जवाब में क्लिंटन जी ने “ऑपरेशन इनफाइनाइट रिच” चलाया।
* सूडान और अफगानिस्तान के आतंकवादी ठिकाने पर “क्रूज मिसाइल” से हमला किया।
* अमेरिका ने U.N की अनुमति भी नहीं ली।
* अमेरिका पर आरोप लगा कि इस मामले में आम लोगों को भी निशाना बनाया गया ये तो वर्चस्व की शुरुआत है शरीफ….!

प्रसन 5. 9/11 की घटना से आप क्या समझते हैं?

उत्तर :- 11 दिसंबर 2001 को अरब देश के 19 अपहरणकर्ताओं ने उड़ान करने के बाद “चार” अमेरिकी विमान पर कब्जा कर लिया था।
(पहला विमान) = वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (न्यू यॉर्क) – उत्तरी टावर पर टकराया।
(दूसरा विमान) = वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (न्यू यॉर्क) – दक्षिणी टावर पर टकराया ।
(तीसरा विमान) = पेंटागन (रक्षा विभाग का मुख्यालय) – की बिल्डिंग से टकराया ।
(चौथा विमान) = कांग्रेस की मुख्य इमारत से टकराना था पर पेंसिलवेनिया के खेत में गिर गया था।
इस घटना को 9/11 कहते हैं ।
* दिल दहला देने वाला हमला था इस हमले में 3000 लोग मारे गए।
* राष्ट्रपति जॉर्ज w बुश ने कठोर कार्यवाही की आतंकवाद के खिलाफ “ऑपरेशन एडयूरिंग फ्रीडम” चलाया गया और मुख्य निशाना अलकायदा तालिबान को बनाया।
* सारी दुनिया में गिरफ्तारी की और केंद्रीय को खुफिया जेलखाने में रखा गया जो क्यूबा के “ग्वातनामो ने” इस से मिलने की अनुमति U.N के अधिकारी को भी नहीं थी।

प्रसन 6. अमेरिका इतना ताकतवर क्यों है? महाशक्ति होने के कारण?

उत्तर :- 1) बड़ी चढ़ी सैन्य शक्ति अमेरिका के पास ज्यादा सैनिक है।
2) सबसे अच्छे हथियार अमेरिका के पास हैं।
3) दुनिया के 12 ताकतवर देश कितना पैसा अपने सैनिकों के ऊपर खर्च करते हैं उतना अमेरिका अकेले ही खर्च करता है।
4) दुनिया के सबसे अच्छे हथियार अमेरिका के पास है तथा यह नए हथियारों का उपयोग करता है।
5) दुनिया की सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति अमेरिका है।

प्रसन 7. इराक पर अमेरिका का हमला।

उत्तर :- * 19 मार्च 2003 को अमेरिका ने “ऑपरेशन इराकी फ्रीडम” चलाया
* U.N ने इस हमले की अनुमति नहीं दी थी। * दिखावे के लिए अमेरिका ने कहा कि इराक खतरनाक हथियार बना रहा है ।
* बाद में पता चला कि इराक में कोई खतरनाक हटिया नहीं है
“उपदेश” = अमेरिका इराक के तेल भंडार और इराक में अपनी मनपसंद सरकार बनाना चाहता था ।
* अमेरिका युद्ध तो जीत गया मगर इराक के लोगों ने अमेरिका की सरकार को विरोध किया।

प्रसन 8. अमेरिका की कमजोरी

उत्तर :- ताकत के मामले में अमेरिका सबसे आगे है लेकिन अपने कब्जे वाली जगह में वह अपनी कानून व्यवस्था तथा वहां राजनीतिक व्यवस्था सही से स्थापित करने में असफल रहा।

प्रसन 9. अमेरिका शक्ति के रास्ते में रुकावट/ अवरोध समस्या?

उत्तर :- 1 (पहला व्यवधान) – अमेरिका में शक्तियों को तीन अंगों में बांटा गया है कार्यपालिका सेना को गलत काम करने से रोकती है।
2 ( दूसरा व्यवधान) – वहां के लोग और सरकार के विचार कई बार अलग-अलग होते हैं तो वहां पर विरोध होता है।
3 ( तीसरा व्यवधान) – NATO अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ही संगठन है जो अमेरिका की ताकत पर लगाम लगा सकता है NATO मे कई देश शामिल है अगर अमेरिका कोई फैसला लेता है और NATO मैं शामिल देशों को यह फैसला सही नहीं लगता है तो अमेरिका के उस फैसले पर रोक लगा दी जाती है।

प्रसन 10. भारत को अमेरिका से कैसे संबंध रखने चाहिए! 3 रणनी पर चर्चा करों

उत्तर :- 1) भारत को अमेरिका से दूरी बनाकर रखनी चाहिए अगर कभी कोई विवाद होगा तो भारत को अमेरिका के गुस्से का सामना करना पड़ेगा।
2) भारत को अमेरिका के वर्चस्व का लाभ उठाना चाहिए।
3) अपनी अगुवाई में भारत विकासशील देश से संगठन बनाएं।

प्रसन 11. अमेरिकी वर्चस्व से कैसे निपटे?

उत्तर :- 1) भारत चीन रूस साथ हो जाए।
2) बैटवैगन की नीति अपनाकर।
3) कोई देश अपने आप को अमेरिका नजर से छुपा ले।
4) यदि राज्येत्तर संस्थाएँ, NGO, सामाजिक आंदोलन मीडिया, जनता, बुद्धि जीव, कलाकार, लेखक, सभी मिलकर अमेरिका वर्चस्व का प्रतिरोध करें।

प्रसन 12. भारत अमेरिका के संबंध ?

उत्तर :- * शीत युद्ध के समय में भारत अमेरिका गुड के खिलाफ था और सोवियत संघ से करीब था ।
* सोवियत संघ के विघटन के बाद भारत मित्रविहीन हो गया था ।
* उसके बाद भारत और अमेरिका के संबंध में सुधार आए हैं ।
* भारत का 65% सॉफ्टवेयर के क्षेत्र का निर्यात अमेरिका को जाता है।
* बोइंग में 35% तकनीकी कर्मचारी भारतीय हैं ।
* सिलिकॉन वैली में 3 लाख भारतीय काम करते हैं ।
* उच्च प्रद्योगिकी के क्षेत्र में 15% कंपनियों की शुरुआत अमेरिका में बसे भारतीयों ने की।

एक अंकीय प्रश्न :-

1. अमेरिकी वर्चस्व की शुरूआत कब हुई ?

उत्तर :- 1991 में, सोवियत संघ के विघटन के बाद।

2. पेंटागन क्या है?

उत्तर :- अमेरिका का रक्षा मुख्यालय।

3. IMF का शब्द विस्तार लिखो।

उत्तर :- अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष।

4. अमेरिकी वर्चस्व से बचने का कोई एक तरीका बताइये।

उत्तर :- अपने को छिपा लेने की नीति।

5. वाक्य सही करके लिखो एम.बी.ए. की डिग्री अमेरिका के सैन्य वर्चस्व को दर्शाती है।

उत्तर :- एम.बी.ए. डिग्री अमेरिका के आर्थिक वर्चस्व को दर्शाती है।

6. 9/11 की घटना के लिए किस आतंकवादी गुट को जिम्मेवार माना गया।

उत्तर :- अलकायदा

7. प्रथम खाड़ी युद्ध कब हुआ ?

उत्तर :- 1991 में

8. ऑपरेशन “डेजर्ट स्टाम” नामक सैन्य अभियान का नेतृत्व किसने किया?

उत्तर :- अमेरिकी जनरल नार्मन श्वार्जकॉव।

9. आतंकवाद के खिलाफ चलाए गए विश्वव्यापी युद्ध को किस नाम से जाना गया।

उत्तर :- ऑपरेशन एन्ड्यूरिंग फ्रीडम।

10. अमेरिकी नेतृत्व में कोअलिशन ऑफ वीलिंग्स (आकांक्षियों का महाजोट) किस देश के विरूद्ध बना?

उत्तर :- इराक।

11. कौन सा युद्ध वीडियो गेम वार के नाम से जाना गया ?

उत्तर :- प्रथम खाड़ी युद्ध (1991)

12. बैंड बैगन नीति क्या है?

उत्तर :- वर्चस्व वाले देश का विरोध करने कि बजाय उसके तंत्र के अवसरों का लाभ उठाया।

13. नई विश्व व्यवस्था क्या है?

उत्तर :- सोवियत संघ के विघटन के बाद अमेरिका का बढ़ता प्रभाव।

14. ऑपरेशन इनफाइनाइट रीच किसके विरूद्ध चलाया गया ?

उत्तर :- अलकायदा के विरूद्ध

15. ‘स्मार्ट बम’ से क्या अभिप्राय है?

उत्तर :- प्रथम खाड़ी पुस्ख में अमरीका द्वारा प्रयोग में लाये गये वमों को विज्ञापनी अंदाज में स्मार्ट बम कहा गया।

16. ब्रेटनवुड प्रणाली को संक्षेप में बतायें।

उत्तर :- वैश्विक व्यापार के नियम अमरीकी हित के अनुसार तय करना।

17. रिक्त स्थान की पूर्ति करें।

a)…………देशों की मिली-जुली और……… सैनिकों की भारी भरकम फौज ने इराक के विरूद्ध मोर्चा खोला।
b) क्यूबा के निकट अमरीकी नौ सेना का एक ठिकाना……………..में है।

उत्तर :- अ) 34,660000
ब) ग्वांतानामो बे

18. SLOC का शब्द विस्तार लिखें।

उत्तर :- Sea Lane of Communications

19. वाक्य को सही कर पुनः लिखें।

a) खाड़ी युद्ध का ऑपरेशन एन्डयूरिंग फ्रीडम के नाम से जाता है।
b) विश्व की अर्थव्यवस्था में भारत की हिस्सेदारी 28 प्रतिशत है।

उत्तर :- a) खाड़ी युद्ध को ऑपरेशन डेजर्ट के नाम से जाना जाता है।
b) विश्व की अर्थव्यवस्था में अमरीका की हिस्सेदारी 28 प्रतिशत है।

20. सही विकल्प का चयन कीजिए। प्रथम खाड़ी युद्ध में इराक के लगभग इतने नागरिक मारे गये।

(1) 3000 (2) 5000 (3) 20000 (4) 50000

उत्तर :- 4)50000

21. ऑपरेशन इराकी फ्रीडम में देश शामिल हुये।

(1) 35 से ज्यादा
(2) 34 से ज्यादा
(3) 50 से ज्यादा
(4) 40 से ज्यादा

उत्तर :- 4) 40 से ज्यादा

दो अंकीय प्रश्न :-
1. पहला बिजनेस स्कूल कब व कहाँ खुला

उत्तर :- यूनिवर्सिटी ऑफ पेन्सिलवेनिया में बाहर्टन स्कूल के नाम से 1881 में। एम. बी.ए. के शुरूआती पाठ्यक्रम 1900 से आरम्भ हुए।

2. बर्चस्व (हेगेमनी) से आप क्या समझते हो?

उत्तर :- दूसरे के व्यवहार को प्रभावित या नियंत्रित करने की क्षमता, जिससे कि वह प्रत्येक बात मान ले, वर्चस्व कहलाता है।

3. राष्ट्रपति विल क्लिंटन ने अपने कार्यकाल के दौरान किन मुद्दों पर अधिक जोर दिया?

उत्तर :- लोकतंत्र को बढ़ावा, जलवायु परिवर्तन तथा विश्व व्यापार जैसे नरम मुद्दों पर जोर दिया।

4. प्रथम खाड़ी युद्ध किन दो पक्षों के बीच लड़ा गया?

उत्तर :- इराक और अमेरिका द्वारा निर्देशित उप देशों की सेना के बीच।

5. 9/11 की घटना से आपके विचार में अमेरिकी सोच में क्या बदलाव आया ?

उत्तर :- आतंकवाद को विश्वव्यापी घटना अर्थात् अन्तर्राष्ट्रीय समस्या माना।

6. भारत और अमेरिका के बीच मित्रता दर्शाने वाले किन्ही दो तथ्यों को उजागर करो।

उत्तर :- i) भारत और अमेरिका के मध्य असैन्य परमाणु करार।
ii) आतंकवाद को एक समस्या मानना।

7. ऑपरेशन इराकी फ्रीडम के इराक पर किए गए हमले का वास्तविक मकसद क्या था ?

उत्तर :- i) इराक के तेल भंडार पर नियंत्रण।
ii) इराक में अमेरिका की मनपसंद सरकार कायम करना।

8. ऑपरेशन एन्डयूरिंग फ्रीडम के अन्तर्गत क्या-क्या कदम उठाए गए?

उत्तर :- i) अलकायदा और तालिबान को निशाना बनाया।
ii) संदेहास्पद लोगों को गिरफ्तार कर ‘ग्वातानामो बे” में रखा गया

9. मार्शल योजना क्या है?

उत्तर :- अमरीका द्वारा यूरोपीय देशों को आर्थिक सहायता प्रदान की गयी थी, इसे ही मार्शल योजना कहा गया।

10. मिलान कीजिए

1. ऑपरेशन डेजर्ट स्टॉर्म.
2. ऑपरेशन इनफाइनाइट रीच
3. ऑपरेशन एन्डयूरिंग फ्रीडम
4. ऑपरेशन इराकी फ्रीडम

(क) बिल क्लिंटन
(ख) 9/11 की घटना के बाद
(ग) जॉर्ज बुश सीनियर
(घ) जार्ज डब्ल्यू बुश जूनियर

उत्तर :- 1) ग
2) क
3) ख
4) घ

चार अंकीय प्रश्न :-
1. अमेरिकी बर्चस्व का सैन्य तथा सांस्कृतिक संदर्भ में उल्लेख कीजिए।

उत्तर :-

2. 11 सितम्बर 2001 को संयुक्त राज्य अमेरिका पर आकतवाद हमला क्यों हुआ ? इस पर अमेरिका की प्रतिक्रिया क्या थी?

उत्तर :- पूरी दुनिया के लोगों तथा सरकारों का ध्यान आकर्षित करने के लिए तथा ऑपरेशन इनफाइनाइट रीच की प्रतिक्रिया स्वरूप।

• अमेरिका ने इसके विरूद्ध विश्वव्यापी युद्ध छेड़ दिया।
• सुरक्षा के नाम पर अमेरिका में प्रवेश करने वाले यहाँ तक कि छूट प्राप्त राजनयिकों को भी जांच के दायरे में ले लिया गया।

3. अमेरीका के वर्चस्व से निबटने के विभिन्न उपायों पर चर्चा कीजिए ?(IMP)

उत्तर :- – बैंडवेगन नीति।
– अपने को छुपा लेने की नीति।
– मीडिया, स्वयसेवी संगठन, बुद्धिजीवियों द्वारा सामूहिक प्रतिकार।
– शक्तिशाली एवं बड़े देशों यथा चीन, रूस तथा भारत द्वारा संयुक्त प्रयास द्वारा।

4. विश्व की अर्थव्यवस्था में अमेरिका का क्या स्थान है ? इसका उदाहरण सहित वर्णन करो।

उत्तर :- – विश्व की अर्थव्यवस्था में अमेरिकी भागीदारी 28 प्रतिशत है।
– हर क्षेत्र में अमेरिका की कोई न कोई कम्पनी अग्रणी तीन कम्पनियों में से है।
– प्रमुख आर्थिक अन्तर्राष्ट्रीय संगठनों जैसे IME, विश्व बैंक तथा विश्व व्यापार संगठन पर अमेरिका का दवदवा।
– वर्ल्ड वेब बाइड या इंटरनेट पर अमेरिकी प्रभुत्व एवं MBA की डिग्री।

पाँच अंकीय प्रश्न :-
1. दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़ें एवं संबंधित प्रश्नों के उत्तर दीजिए “कुछ लोग मानते है कि अमरीकी वर्चस्व का प्रतिकार कोई देश अथवा देशों का समूह नहीं कर पाएगा क्योंकि आज सभी देश अमरीकी ताकत के आगे बेबस हैं। ये लोग मानते हैं कि राज्येत्तर संस्थाएँ अमरीकी वर्चस्व के प्रतिकार के लिए आगे आएंगी। अमरीकी वर्चस्व को आर्थिक और सांस्कृतिक धरातल पर चुनौती मिलेगी।”

i) अमरीकी वर्चस्व का प्रतिकार कौन कर सकता है ?
ii) “राज्येत्तर संस्था” से क्या तात्पर्य है ?

iii) अमरीकी वर्चस्व का प्रतिकार किस प्रकार किया जा सकता है ? 2

उत्तर :- i) राज्येत्तर संस्थाएं
ii) स्वयंसेवी संगठन, मीडिया व बुद्धिजीवी आदि।
iii) ये संस्थाएं आपस में मिलकर विश्वव्यापी नेटवर्क बना सकती है। जिसमें अमेरिकी नागरिक भी शामिल हो सकते है।

2. निम्नलिखित अवतरण को ध्यान से पढ़िए तथा संबंधित प्रश्नों के उत्तर दीजिए ?

1992 में बिल क्लिंटन अमेरिका के राष्ट्रपति बने। क्लिंटन ने विदेश नीति की जगह घरेलू नीति को अपने चुनाव प्रचार का निशाना बनाया था। क्लिंटन 1996 में दुबारा चुनाव जीते और इस तरह वह आठ सालों तक राष्ट्रपति पद पर रहे। क्लिंटन के दौर में ऐसा जान पड़ता था कि अमेरिका ने अपने को घरेलू मामलों तक सीमित कर लिया है। विदेश नीति के मामले में क्लिंटन सरकार ने सैन्य शक्ति और सुरक्षा जैसी कठोर राजनीति की जगह लोकतंत्र के बढ़ावे, जलवायु परिवर्तन तथा विश्व व्यापार जैसे नरम
मुद्दों पर ध्यान केन्द्रित किया।

i) 1992 में राष्ट्रपति वने बिल क्लिंटन किस पार्टी के उम्मीदवार थे तथा उन्होंने किस उम्मीदवार को हराया ?
ii) क्लिंटन के चुनाव प्रचार के मुख्य मुद्दे क्या थे ? iii) क्लिंटन ने किन मुद्दों को अपने कार्यकाल के दौरान उठाया?

उत्तर :- i) डेमोक्रेटिक पार्टी, जार्ज बुश सीनियर।
ii) घरेलू रूप से अमेरिका को मजबूत बनाना।
iii) लोकतंत्र के बढ़ावे, जलवायु परिवर्तन तथा विश्व व्यापार जैसे नरम मुद्दो पर अपना ध्यान केन्द्रित किया।

6 अंकीय प्रश्न :-
1. अमेरिकी वर्चस्व की राह में तीन अवरोध कौन से है? स्पष्ट करो ?(IMP)

उत्तर :- – अमेरिका की संस्थागत बनावट।
– अमेरिकी समाज की उन्मुक्त प्रकृति।
– नाटो।

2. अमरीकी वर्चस्व को उसकी सैन्य शक्ति, ढाचागत वर्चस्व तथा सांस्कृतिक वर्चस्व के रूप में व्याख्या करो ? (IMP)

उत्तर :-

3. संयुक्त राज्य अमरीका के साथ भारत के संबंध किस प्रकार के होने चाहिए? इसके बारे में भारत के अंदर तीन विभिन्न दृष्टिकाणो का विश्लेषण कीजिए।

उत्तर :- i) भारत को अमेरिका से दूरी बनाए रखनी चाहिए और उसे अपनी व्यापक राष्ट्रीय शक्ति पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए।

ii) भारत को अमेरिकी वर्चस्व और आपसी समझ का यथा संभव अपने हित में लाभ उठाना चाहिए। अमेरिका का विरोध करना व्यर्थ होगा और अंततः भारत को क्षति पहुँचेगी।

iii) भारत को विकासशील देशों का गठबंधन बनाने में नेतृत्व देना चाहिए।

4. अमरीका की उन्नत प्रौद्योगिकी भारतीय मेहनत का फल है। इस कधन के पक्ष में तर्क सहित विस्तारपूर्वक समझाइये?

उत्तर :- i) सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में भारत के कुल निर्यात का 65 प्रतिशत अमेरिका का जाता है।

ii) वोईग के 35 प्रतिशत तकनीकी कर्मचारी भारतीय मूल के है।

iii) लाख भारतीय ‘सिलिकन वैली में कार्यरत है।

iv) उच्च प्रौद्योगिकी के क्षेत्र की 15 प्रतिशत कम्पनियों की शुरूआत अमेरिका में बसे भारतीयों ने ही की है।

5. क्या भारत -अमेरिका असैन्य परमाणु समझौता भारत अमरीकी संबंधों में मील का पत्थर है? अपने विचार तर्क सहित प्रस्तुत कीजिए।

उत्तर :- हो
– भारत को सामरिक बढ़त।
– ऊर्जा आवश्यकताओं की पूति।
– परमाणु आपूर्ति समूह NSG द्वारा यूरेनियम की उपलब्धता सुनिश्चित करना।
– विश्व राजनीति में भारत का कद बढ़ना एवं छवि में सुधार।
– भारत अमेरिकी संबंधों में प्रगाढ़ता
– अन्य विकसित देशों जैसे फ्रांस के साथ भी इसी प्रकार का समझौता करना।

Class 12 All Subjects Notes In Hindi

History Click Here
Political Science Click Here
Geography Click Here
Economics Click Here